आवारा पशुओं का सहारा बनीं प्रमिला सिंह तो पीएम मोदी ने खत लिखकर कही ये ‘बात’

0
18

 

राजस्थान के कोटा की रहने वाली सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी प्रमिला सिंह आवारा पशुओं की देखभाल करती है प्रमिला सिंह कोरोना महामारी के संकट में असहाय आवारा पशुओं का सहारा बनने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने उनको सराहा है.

प्रमिला अपने पिता के निजी धन को खर्च कर आवारा पशुओं की देखभाल करती रही, प्रमिला ने अपने पिता श्यामवीर सिंह के साथ सड़कों पर घूम रहे आवारा जानवरों के लिए खाने और इलाज की व्यवस्था की. इस अनोखे काम के लिए पीएम ने पत्र लिखकर उनको धन्यवाद दिया है.और पीएम ने प्रमिला के प्रयासों को जानवरों के दर्द को समझने और उनकी मदद के लिए आगे आने के लिए समाज के लिए एक प्रेरणा बताया है.

पीएम मोदी ने अपने पत्र में कहा, ‘पिछले लगभग डेढ़ वर्षों में, हमने अभूतपूर्व परिस्थितियों का सामना दृढ़ता के साथ किया है. यह एक ऐसा ऐतिहासिक काल है जिसे लोग जीवन भर नहीं भूलेंगे. यह न केवल मनुष्यों के लिए बल्कि कई मनुष्यों के निकट रहने वाले जीव के लिए भी एक कठिन अवधि है.


पीएम मोदी ने उन्हें एक पत्र में लिखा, ‘ऐसी स्थिति में बेसहारा पशुओं की पीड़ा और जरूरतों के प्रति संवेदनशील होना और उनके कल्याण के लिए व्यक्तिगत स्तर पर पूरी क्षमता के साथ काम करना आपके लिए काबिले तारीफ है. इसके साथ पीएम ने इस बात का भी जिक्र किया कि इस कठिन समय में कई ऐसे उदाहरण देखे गए हैं जिन्होंने हमें मानवता पर गर्व महसूस करने का कारण दिया है. उन्होंने आशा व्यक्त की कि मेजर प्रमिला और उनके पिता अपनी पहल से समाज में जागरूकता फैलाकर अपने काम से लोगों को प्रेरित करते रहेंगे.

इससे पहले सेना के पूर्व अधिकारी ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर जानकारी दी थी कि जानवरों की देखभाल का काम जो उन्होंने लॉकडाउन के दौरान शुरू किया था, वह अब भी जारी है. उन्होंने और लोगों से उनकी मदद के लिए आगे आने की अपील की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here