अजब गजब – भारत का एक मात्र ऐसा गांव जो जुड़वा लोगों का गांव कहलाता है

0
24
भारत में एक ऐसा भी गांव है जहां हर 1000 बच्चों पर 45 बच्चे जुड़वा पैदा होते हैं हालांकि यह औसत विश्व के दूसरे नंबर पर है लेकिन जुड़वा मामलों में एशिया में पहले नंबर पर है

केरल के मल्लपुरम जिले में स्थित कोडिन्ही गांव को जुड़वा बच्चों के गांव के नाम से जाना जाता है अभी वर्तमान में यहां करीब 350 जुड़वा जुड़े रहते हैं जिसमें नवजात शिशु से लेकर 65 वर्ष के व्यक्ति तक शामिल है
कोडिन्ही गांव में एक मुस्लिम गांव है । जिसकी आबादी करीब 2000 इस गांव में स्कूल घर बाजार लगभग हर जगह हमशक्ल नजर आते हैं इस गांव में जुड़वा बच्चे पैदा होना आम बात है इस गांव में लगभग 3000 घरों में 740 जुड़वा बच्चे हैं और जुड़वा बच्चों की संख्या हर साल बढ़ रही है इस गांव में 2008 में सर्वाधिक 300 बच्चों पर 15 जुड़वा बच्चे पैदा हुए जो अब तक 1 साल में जन्मे सबसे अधिक जुड़वा बच्चे हैं अब इस गांव में 2:00 के बाद तीन तीन बच्चे भी एक साथ पैदा होने लगे ऐसे केस पिछले 3 साल में देखे गए हैं

लगभग सात दशक पहले हुई थी शुरुआत
इस गांव में जुड़वा जोड़ों में सबसे उम्रदराज 65  साल के अब्दुल हमीद और उनकी जुड़वा बहन कुन्ही कादिया है ऐसा माना जाता है कि इस गांव में तभी से बच्चे जुड़वा पैदा होना शुरू हुए थे। शुरू के सालों में इक्का-दुक्का जुड़वा बच्चे पैदा होते थे लेकिन बाद में तेजी आएगी और आप तो बहुत ज्यादा संख्या में जुड़वा बच्चे पैदा हो रहे हैं आप अंदाजा इस तथ्य से लगा सकते हैं कि यहां से कुल जुड़वा लोगों में से आधे पिछले 10 सालों में पैदा हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here